in ,

सरकार कर्मचारियों की मांगों पूरी करने का वादा नहीं निभाती है तो नौ की रात से रोडवेज का चक्का जाम

यूपी रोडवेज इंप्लाइज यूनियन ने राज्य सरकार से स्पष्ट कर दिया है कि या तो 25 जून को लखनऊ में होने वाले वादा निभाओ परिवहन विकास सम्मेलन में मांगों को पूरा कर दें. नहीं तो 9 जुलाई की रात 12 बजे से हड़ताल का दंश झेलने को तैयार रहे.

क्षेत्रीय मंत्री अनिल कुमार का कहना है, सरकार यूनियन की मांगों को लेकर अनदेखी कर रही है. जब चक्का जाम का ऐलान होता है तो सरकार फर्जी आदेश जारी करती है. ऐसा कई बार हो चुका है. आदेशों पर अमल नहीं किया जाता है.

सरकार आठ जुलाई तक यदि कर्मचारियों की मांगों के संबंध में कोई उचित नर्णिय नहीं लेती है तो नौ जुलाई की रात 12 बजे से चक्का जाम कर दिया जाएगा. प्रांतीय आहवान पर चक्का करने का फैसला लिया गया है. बरेली यूनियन की बैठक में चक्का जाम की तैयारियां शुरु कर दी हैं.

मुन्ना शर्मा, चक्रपाल सिंह, योगेंद्र कुमार, सुरेंद्र भसीन, कमल सिंह, शशिकांत, मोहम्मद आदिल, नर्भिय गुप्ता, संजीव गुप्ता, अवधेश पाल, प्रदीप गुप्ता, सुशील सैमुअल, हंसाराम आदि को हड़ताल की जिम्मेदारियां सौंप दी गई हैं.

 

सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट की जमीन खरीद से लेकर अतिक्रमण अभियान तक, कई दिग्गज मंत्रियों की चिट्ठी वायरल

बरेली: मेयर ने विवाद का किया पटाक्षेप, तब खुले नगर निगम में ऑफिस के ताले