in ,

महापौर जी! बरेली शहर में इन सड़कों का कराइए चौड़ीकरण

शहर में कई ऐसी सड़कें हैं जो बढ़ते ट्रैफिक के कारण संकरी लगने लगी हैं, इन पर अक्सर जाम की स्थिति भी रहती है. ऐसी सड़कों को नजरअंदाज कर नगर निगम शहर की सबसे चौड़ी सड़क पर चौड़ीकरण के नाम पर 4.5 करोड़ रुपये खर्च करने जा रहा है. बकायदा इसका टेंडर होने के बाद काम शुरू होने वाला है.

चौड़ी सड़क पर शासकीय धन के दुरुपयोग की शिकायत लोको शेड निवासी सत्येंद्र सिंह ने मुख्यमंत्री के पोर्टल पर की है. डीएम समेत आला अफसरों को भी शिकायती पत्र भेजा है. तमाम ऐसी सड़कें सामने आई हैं जिनका चौड़ीकरण जनता के लिए होना बेहद जरूरी है.

स्टेडियम रोड पर रेता-बजरी कारोबार

श्यामगंज ओवरब्रिज बनने के बाद इस सड़क से निकलने वाले वाहनों की संख्या तेजी से बढ़ी है. सड़क पर ट्रैफिक बढ़ने के बाद उसे चौड़ा करने की भी जरूरत सबसे अधिक है.

इस सड़क के किनारे तमाम जगह अतिक्रमण हो गए हैं. स्टेडियम से डेलापीर तक कई जगह रेता-बजरी के कारोबार भी चल रहे हैं. यह मार्ग चौड़ा होने से लोगों को लाभ होगा.

आइवीआरआइ रोड पर बढ़ेगा ट्रैफिक

करीब चार साल पहले अवस्थापना निधि के तहत सौ फुटा रोड का निर्माण कराया गया था. उस वक्त पीडब्ल्यूडी ने बची हुई रकम से सौ फुटा से डेलापीर चौराहा और वहां से आइवीआरआइ रोड का कुछ हिस्सा चौड़ा कर दिया था.

आगे की पूरी रोड टू-लेन ही है. क्रासिंग पर फोरलेन ओवरब्रिज बन रहा है. उसके पूरा होते ही वहां ट्रैफिक बढ़ेगा. इसलिए सड़क को चौड़ा करना जरूरी है.

कुदेशिया रोड पर रहती जाम की स्थिति

कोहाड़ापीर पेट्रोल पंप से कुदेशिया ओवरब्रिज तक सड़क काफी व्यस्त हो गई है. यहां वाहनों की आवाजाही काफी अधिक है. इस रोड पर तीन बड़े विद्यालय होने के कारण बच्चों व बड़ों का आना जाना रहता है.

यहां अक्सर जाम की स्थिति बनी रहती है. नगर निगम ने करीब दो साल पहले इस रोड के चौड़ीकरण के लिए एक करोड़ रुपये स्वीकृत किए थे. बाद में निगम के पास धनराशि नहीं होने के कारण यह काम नहीं हो सका.

 

 

बरेली: नगर निगम की टीम ने बानखाना में अवैध दुकानों पर चलाया बुलडोजर

बरेली: बारिश ने ठंडा किया मौसम, 11 साल के सबसे निचले स्तर पे आई गर्मी