in ,

बरेली : मॉडल टाउन गुरुद्वारा की कार्यकारिणी पर कब्जे की सियासत पर विवाद बढ़ा, प्रशासन को देनी पड़ी दखल

सोमवार को मॉडल टाउन गुरुद्वारा की कार्यकारिणी पर कब्जे की सियासत से उपजा विवाद इतना बढ़ गया कि प्रशासन को दखल देनी पड़ी. सुबह सिख समाज के दोनों पक्ष पहले एसपी सिटी रोहित सिंह सजवाण से मिले.

इसके बाद कलेक्ट्रेट पहुंचे. एडीएम सिटी ओपी वर्मा के चैंबर में बातचीत शुरू हुई थी, तभी एकाएक दोनों पक्ष एडीएम के सामने ही भिड़ गए.

माहौल गरम होने पर दोनों पक्षों को सभागार में बुलाया. एडीएम, एसपी सिटी रोहित सिंह की मौजूदगी में वहां भी नोकझोंक होने लगी. इस पर एडीएम ओपी वर्मा को कहना पड़ा कि 20 साल की नौकरी में पहली बार सिख समाज का झगड़ा आया है.

अहम के लिए धर्म और समाज को खुलेआम बदनाम न करो. अब मंगलवार शाम को कलेक्ट्रेट सभागार में ही दोनों पक्षों के पांच-पांच प्रतिनिधियों की प्रशासन की मौजूदगी में बैठक में अंतिम निर्णय होगा.

यह है मामला

मॉडल टाउन गुरुद्वारा सभा में वर्ष 2016 से बीबी जसपाल कौर कमेटी प्रधान हैं. इसी कमेटी के तहत स्थापित गुरुगोविंद सिंह इंटर कॉलेज भी है. इसके अध्यक्ष अमरजीत सिंह बख्शी हैं. दोनों अलग-अलग पक्ष हैं.

गुरुद्वारा प्रबंधन के नियमों में कमेटी का प्रधान या उसके तरफ से नियुक्ति प्रतिनिधि विद्यालय की समिति का प्रबंधन बनना चाहिए. इसी के चलते करीब 20 दिन से भीतर ही भीतर दो पक्षों में समाज बंट गया.

डीआइओएस बुलाए गए, आज होगी बैठक

हल निकालने की बैठक में भी आमने-सामने आरोप प्रत्यारोप और नोकझोंक से होने पर एडीएम सिटी ने आगे की बात विद्यालय प्रबंधन का झगड़ा निपटने के बाद करने की बात कही. मंगलवार को जिला विद्यालय निरीक्षक को इस विद्यालय से जुड़ी फाइल के साथ बुलाया है.

वर्जन..

सिख समाज की बैठक में एक मुद्दे पर विवाद था. अब तीन बिंदु सामने आए हैं. दोनों तरफ के पांच-पांच लोगों की मौजूदगी में बैठक होगी. इसी में चुनाव, विद्यालय प्रबंधन आदि बिंदुओं पर चर्चा होगी.

ओपी वर्मा, एडीएम सिटी

 

बरेली : शहर के कई मकानों में नही है कार पार्किंग की उचित व्यवस्था

बरेली : जिला अस्पताल में स्टाफ के छुट्टी पर जाते ही मशीन की भी हो जाती है छुट्टी