in ,

बरतें सावधानी! आज से शुरू हुआ सड़क सुरक्षा सप्ताह

सड़क सुरक्षा सप्ताह आज से शुरू हो गया. इसके साथ ही पुलिस प्रशासन भी इस कवायद में लग गया है कि लोगों को जागरूक किया जाए कि सड़क पर चलने से पहले वह अपनी सुरक्षा के पर्याप्त इंतजाम कर लें.

बाइक पर चल रहे हैं तो हेलमेट लगाए और कार में सीट बेल्ट. ऑटो व बसों पर सफर करते हुए कम किराये के लालच में आकर अपनी जान से समझौता मत कीजिए.

देख लीजिए जिस वाहन पर आप सफर कर रहे हैं वह ठीक है या नहीं. ज्यादा सवारी होने पर वाहन पर न ही बैठें तो अच्छा है.

दो व चार पहिया वाहन चलाते समय सबसे ज्यादा मौत हेलमेट व सीट बेल्ट का प्रयोग न करने से होती हैं. इस वजह से शासन ने परिवहन व पुलिस विभाग को हर बुधवार को हेलमेट व सीट बेल्ट दिवस मनाने का निर्देश दिया है.

प्रशासन अभियान चलाकर चालान की कार्रवाई कर रहा है. लोगों को जागरूक करने के लिए निशुल्क हेलमेट तक बांटे गए. ट्रैफिक नियमों का पालन न करने के कारण भी अक्सर हादसे हो जाते हैं.

कई बार देखा गया है कि लोग दायें की जगह बायीं ओर से ओवरटेक करने की गलती कर बैठते हैं, जिससे हादसा हो जाता है. चौराहे पर दायें व बायें देखे बिना वाहनों को दौड़ाना बेहद खतरनाक होता है.

तेजी के चक्कर में ट्रैफिक लाइट का पालन न करने से खुद को नुकसान पहुंचाते हैं, साथ ही सामने वाले के दर्द के भागीदार बनते हैं.

शराब पीकर कभी भी वाहन न चलाए

आप जिस वाहन पर यात्रा कर रहे हैं अगर उसका ड्राइवर शराब पिया है तो तत्काल वाहन से उतर जाए या फिर ड्राइवर की शिकायत पुलिस से करें. ट्रैफिक पुलिस का मानना है कि शराब पीकर वाहन चलाना हादसों की अहम वजह है.

सख्त हुआ कानून, सोर्स से नहीं चलेगा काम

यातयात नियम तोड़ने वालों के लिए कानून को सख्त किया गया है. जुर्माना की राशि कई गुना बढ़ाई गई है. अभियान के दौरान पकड़े जाने पर कोई सोर्स काम नहीं आ रही है.

जुर्माना व चालान के बाद ही छोड़ा जा रहा है. इससे बेहतर है कि हेलमेट व सीट बेल्ट का प्रयोग करते हुए नियमानुसार चलें. न तो कोई कार्रवाई होगी और जीवन भी सुरक्षित रहेगा.

इन बातों का रखें ध्यान –

-गति को रखें नियंत्रित, ट्रैफिक लाइट का करें पालन.

– हेलमेट व सीट बेल्ट का करें प्रयोग.

– नशे में वाहन न चलाएं.

– पीछे से आने वाले वाहन को साइड दें.

– चौराहे पर दायीं व बायीं ओर देखकर ही चलें.

-वाहन पर चलते समय मोबाइल का प्रयोग न करें.

-जल्दी निकलने के प्रयास में गलत तरीके से ओवरटेक न करें.

वर्जन—-

सड़क सुरक्षा सप्ताह की कार्ययोजना तैयार कर ली गई है. वाहन चालकों को जागरूक किया जाएगा. शहर में ऑटो व अन्य वाहनों के पीछे सतर्कता के पम्पलेट चस्पा कराए जा रहे हैं, जिससे लोग जागरूक हो.

लोग वाहनों की गति को नियंत्रित रखें व ट्रैफिक नियमों का पालन करें जिससे कि हादसों से बचा जा सके.

कमलेश बहादुर, एसपी ट्रैफिक

 

मुख्य परीक्षाओं की ऑनलाइन मॉनीटरिंग के लिए रुहेलखंड यूनिवर्सिटी में कंट्रोल रूम तैयार

बदमाश ने सर्राफ की आंखों में मिर्च डालकर लूट लिया बैग